सृजन 50 सेमिनार:एकाग्रता एवं धैर्य ही सफलता के मूल मंत्र

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी कर रहे छात्र छात्राओं से सेमिनार के जरिए संवाद किया गया । टाउन हॉल ऑडिटोरियम में सृजन 50 सेमिनार में मुख्य वक्ता दक्ष आईएएस अकादमी नई दिल्ली के निदेशक प्रवीण पाण्डेय के प्रतियोगी बच्चों को विभिन्न परीक्षाओं की बेहतर तैयारी के टिप्स दिये । उन्होंने परीक्षा संबंधी विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा करते हुए कहा कि विषय का चयन सबसे महत्वपूर्ण है । एकाग्र होकर परिश्रम करके किसी भी मुकाम को हासिल कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि दृढ़ संकल्प, लगन और आत्मविश्वास ही सामर्थ्य की सबसे बड़ी कुंजी हैं। इसलिए चुनौतियों को स्वीकार करते हुए आगे बढ़ने से निश्चित ही मंजिल तक पहुंचा जा सकता है। इसलिए छात्रों को अपनी ताकत पहचानते हुए लक्ष्य निर्धारण के साथ सिविल सर्विसेज की तैयारी करनी चाहिए। उन्होंने छात्रों को इंटरव्यू के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों से अवगत कराया। जिला विद्यालय निरीक्षक प्रदीप कुमार शर्मा ने कहा कि परीक्षा में सफलता के लिये धैर्य बहुत जरूरी है । अपनी छमता को पहचान कर कठोर परिश्रम करके किसी भी लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं । उन्होंने कहा कि समूह बनाकर बेहतर माहौल विकसित कर तैयारी करें। वरिष्ठ शिक्षक रामनरेश पांडेय ने कहा कि हमेशा सीखने की ललक होनी चाहिये ।

विषम परिस्थितियों में भी दृढ़ संकल्प कम नहीं होना चाहिये । बीएससी तृतीय वर्ष के छात्र अतुल कुमार शर्मा, निशा जायसवाल, साक्षी राय, अमीषा शर्मा, बीएससी द्वितीय वर्ष के सत्यम पाण्डेय, रश्मि विश्वकर्मा आदि ने संवाद कर प्रश्न रखा । इस दौरान डॉ विद्यासागर चौबे, प्रवक्ता गोविंद सिंह, जय शिव प्रताप चंद, अनिल कुमार साहनी, आशुतोष नाथ त्रिपाठी, आदित्य सिंह यादव, आशीष शुक्ला, हर्ष कुमार राय, अमित कुमार सिंह आदि मौजूद रहे । विजय श्रीवास्तव ने सबका आभार जताया । कार्यक्रम का संचालन डॉ भावना सिन्हा ने किया ।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here