विकास एवं निर्माण कार्यो को समयबद्धता के साथ पूर्ण करें अधिकारी-जिलाधिकारी

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

जिलाधिकारी आशुतोष निंरजन ने विकास एवं निर्माण कार्यो की समीक्षा के दौरान सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा है कि किसी भी कार्य बिन्दु में श्रेणी/जनपद की रैकिंग प्रभावित नही होनी चाहिये। जिन विभागो के कार्य बिन्दुओं में डी श्रेणी है वे पूरी तन्मयता से कार्य करते हुए अपनी रैकिंग/श्रेणी में अवश्य ही सुधार लाये। अन्यथा इसके लिये जिम्मेदारी तय करते हुए कार्यवाही की जायेगी।


जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए यह भी कहा है कि वे विकास एवं निर्माण कार्यो को समयबद्धता के साथ पूर्ण करें तथा पात्रजनो तक जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्राथमिकता के साथ उपलब्ध कराये। इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता न बरतें।
जिलाधिकारी श्री निरंजन गूगल मीट के माध्यम से विकास/निर्माण कार्यो की मासिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होने मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत बनाये जाने वाले आवासों को शीघ्र पूरा कराये जाने का निर्देश परियोजना निदेशक को देते हुए कहा कि वे पूरी सक्रियता लाये, कार्यो को पूर्ण करायें, जो समस्या आये, तत्कालिक रुप से उसका समाधान कराते हुए आवासो का निर्माण कार्य अनिवार्य रुप से पूर्ण कराये। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, मनरेगा, लाभार्थीपरक योजनाओं, विकास कार्यक्रमों, निर्माण कार्य परियोजनाओ के प्रगति कार्यो की गहनता से समीक्षा की तथा और तत्परता से कार्य करते हुए पात्र जनो को योजनाओं का लाभ पहुॅचाये जाने तथा निर्माण कार्यो को समय से पूर्ण कराये जाने को कहा।


जिलाधिकारी श्री निरंजन समीक्षा के दौरान पंचायत भवनों एवं सामुदायिक शौचालयो के निर्माण कार्यो को शतप्रतिशत पूर्ण कराये जाने का निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी आनंद प्रकाश को देते हुए कहा कि जिन भवनो का केवल फिनिसिंग कार्य होना है, उसे एक सप्ताह के अन्दर पूर्ण करायें। उन्होने यह भी निर्देश दिया कि जिन जगहों पर अभी कार्य शुरु नही हुआ है, ऐसे संबंधित सचिवों का वेतन रोकने का उन्होने निर्देश दिया। दुग्ध समितियों का गठन/पुर्नगठन, कृषि विभाग की डी श्रेणी वाले कार्य बिन्दुओं में सुधार लाये जाने हेतु उप कृषि निदेशक को सचेत किया। उन्होने प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के सत्यापन की लम्बित डाटाओं का फीडिंग कार्य एसडीएम से शीघ्रता से कराये जाने का भी निर्देश दिया। जिला आपूर्ति अधिकारी को रिक्त दुकानो का आवंटन भी शीघ्रता से कराये जाने का निर्देश दिया।
जिलाधिकारी प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की समीक्षा के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा आलोक पाण्डेय को निर्देश देते हुए कहा कि वे इसके लिये पूरी माइक्रो प्लान तैयार कर लें और सोमवार को आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में उसे प्रस्तुत करते हुए उसका क्रियान्वयन सुनिश्चित करायें। आयुष्मान कार्ड बनाये जाने में हर हाल में प्रगति आनी चाहियें। विद्युत विभाग की समीक्षा में उन्होने निर्देश दिया कि वसूली एवं प्रवर्तन कार्य को शीघ्रता से करे। अधिशासी अभियंता विद्युत रामसेवक राम द्वारा बताया गया कि बेसिक शिक्षा, पंचायती विभाग, जल निगम विभाग की बकायेदारी लम्बित है, जिसके लिये जिलाधिकारी ने संबंधित विभागो को भुगतान किये जाने की कार्यवाही किये जाने का निर्देश दिया। नई सडको का निर्माण, चौड़ीकरण, सुदृढीकरण कार्यो की भी उन्होने समीक्षा की। सेतु निगम की चार कार्य परियोजनाओं का भी निरीक्षण संबंधित उप जिलाधिकारियों से वास्तविक स्थिति का जायजा लेने हेतु कराये जाने का निर्देश उन्होने देते हुए यह भी कहा कि उनके साथ पीडब्लूडी के जेई को भी निरीक्षण में सम्मिलित रखे तथा निरीक्षण की रिपोर्ट तीन दिन में आनी चाहिये।
आयोजित इस समीक्षा बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जी एन ने एक-एक कार्य बिन्दुओं की प्रगतियों से अवगत कराते हुए जिलाधिकारी द्वारा दिये गये निर्देशों का अक्षरशः पालन किये जाने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कहा कि वे अनिवार्य रुप से कार्य प्रगतियों में सुधार लायेगें।
इस गूगल मीट में सी0एम0ओ0 डा0आलोक पाण्डेय, परियोजना निदेशक संजय पाण्डेय, उप निदशक कृषि डा ए के मिश्र, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. विकास साठे,जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्णकान्त राय, अधिशासी अभियंता पी0डब्लू0डी0 कमल किशोर, सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक एस पी सिंह, डीएसओ विनय कुमार सिंह, डीएसटीओ मनोज कुमार श्रीवास्तव, मृत्युजन्य चतुर्वेदी सहित कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी गण, अन्य संबंधित विभागो के अधिकारी/कर्मचारी गण आदि जुडे रहे।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here