संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित, जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने बरहज तहसील में सुनी फरियाद




देवरिया टाइम्स। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने बरहज तहसील में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में जन समस्याओं की सुनवायी के दौरान स्पष्ट रुप से निर्देश दिया है कि सभी सन्दर्भाे का निस्तारण गुणवत्ता व समयबद्धता के साथ के साथ सभी अधिकारी सुनिश्चित करें, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही कदापि न बरतें।


           जिलाधिकारी श्री सिंह बरहज तहसील में सम्पूर्ण समाधान दिवस में  पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा के साथ फरियादियों की सुनवायी करते हुए कहा कि राजस्व, विकास एवं पुलिस विभाग से जुडे सभी अधिकारी जिन प्रकरणों में संयुक्त रुप से निराकरण की आवश्यकता हो, उसमें आपसी समन्वय रखते हुए उन मामलो का त्वरित निस्तारण सुनिश्चित करायें।


          आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में शत्रुधन पुत्र शारदा ने अपनी भूमि पर कब्जा दिलाने के संबंध में आवेदन दिया, जिसपर जिलाधिकारी ने मौके पर अधिकारियों को भेजकर इस प्रकरण निस्तारण करा दिया। गामा प्रसाद निवासी ग्राम सोनबरसा ने अवैध अतिक्रमण को गिराने के संबंध में आवेदन दिया, जिस पर जिलाधिकारी ने टीम भेज कर अतिक्रमण हटवाया। अर्जुन प्रसाद मिश्रा निवासी पैना ने परिवार रजिस्टर की नकल देने के संबंध में आवेदन दिया, जिस पर जिलाधिकारी ने परिवार रजिस्टर की नकल उन्हें तत्काल उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। रविन्द्र शुक्ला निवासी तेलिया अफगान ने खतौनी में नाम संशोधन हेतु आवेदन दिया जिसका निराकरण मौके पर ही करा दिया गया। निरंजन पाण्डेय निवासी पैना द्वारा वरासत के लिए आवेदन किया। निजामुद्दीन ग्राम बहार धनौती ने पोखरी पट्टा को निरस्त करने के संबन्ध में आवेदन दिया, जिस पर जिलाधिकारी द्वारा अभिलेखों की जांचोपरांत पट्टा निरस्त कर नए सिरे से पट्टा आवंटन की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया गया। विनोद तिवारी द्वारा कब्जा दिलाये जाने के संबंध में आवेदन दिया जिस पर जिलाधिकारी ने मौके पर टीम को भेजकर समस्या का निराकरण कराया। सुभाष यादव निवासी अजयपुरा द्वारा डाक्टर परीक्षण की नकल उपलब्ध कराने हेतु आवेदन किया गया, जिसे जिलाधिकारी के निर्देश पर उपलब्ध करा दिया गया।       


           पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने पुलिस विभाग से जुडे मामलो की सुनवायी की व पुलिस विभाग के अधिकारियों एवं थानाध्यक्षो को प्राप्त सभी सन्दर्भाे का निस्तारण प्राथमिकता के साथ सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश दिया।
              जनपद में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 274 प्रकरण आयें, जिसमें से 44 प्रकरणों का मौके पर निस्तारण किया गया। प्राप्त प्रकरणों में सर्वाधिक 113 प्रकरण भाटपाररानी से आये जिसमें से 08 का मौके पर ही निस्तारण किया गया। इसी प्रकार देवरिया सदर में 31 प्रकरणो में 06, सलेमपुर में 53 प्रकरणो में 12, रुद्रपुर में 26 प्रकरणो में  08 तथा तहसील बरहज में आये 51 प्रकरणों मे से 10 का मौके पर निस्तारण किया गया।
     बरहज में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में प्रभारी सीएमओ डा सुरेंद्र सिंह, एसडीएम गजेंद्र सिंह, सीओ पंचम लाल, जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्ण कान्त राय सहित विभिन्न विभागों के जनपद स्तरीय अधिकारी खंड विकास अधिकारी एवं थानाध्यक्ष गण उपस्थित थे।

     संपूर्ण समाधान दिवस पर बना 50 दिव्यांग प्रमाण पत्र एवं यूडीआईडी हुआ जनरेट


       
      जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप
सिंह के निर्देशानुसार आज संपूर्ण समाधान दिवस पर बरहज तहसील में दिव्यांगजनों को प्रमाणपत्र उपलब्ध कराने के लिए विशेष कैम्प का आयोजन हुआ।  इस दौरान 50  दिव्यांगता  प्रमाणपत्र तथा यूनिक डिसेबिलिटी आइडेंटिटी कार्ड (यूडीआईडी) जनरेट कर मौके पर वितरित किये गए।

          कैम्प में एसीएमओ डॉ सती राम यादव के नेतृत्व में डॉ शुभलाल,  डॉ तैय्यब अली, डॉ  इनायत हुसैन, डा बृज नारायण यादव, डा महेंद्र प्रताप, राजेश कुमार वर्मा की सदस्यता वाला मेडिकल बोर्ड मौजूद था। मेडिकल बोर्ड के जांचोपरांत 50 लोगों का प्रमाणपत्र बनाया गया। जिन लोगों के प्रमाणपत्र बने हैं उनमें  प्रियांशु राव, सृष्टि सिंह, मालती देवी, नंद लाल यादव, दिग्विजय,अफजल इत्यादि शामिल हैं। मौके पर प्रमाणपत्र प्राप्त करने वाले लाभार्थियों ने जिलाधिकारी के इस पहल की सराहना की और कहा कि यूडीआईडी कार्ड और दिव्यांगता का प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए अब उन्हें अनावश्यक सरकारी कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पड़ रहे हैं और जिला मुख्यालय भी नहीं जाना पड़ता जिससे समय और धन दोनों की बचत हो रही है।जिलाधिकारी की इस नई पहल के बाद दिव्यांगजनों को राहत मिली है।
      
      इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि दिव्यांगजनों की सुविधा के लिए डीएम की अध्यक्षता वाले समस्त संपूर्ण समाधान दिवस में दिव्यांगजनों के लिए विशेष कैम्प का आयोजन किया जाएगा। इस कैंप में यूडीआईडी के साथ मेडिकल बोर्ड द्वारा प्रमाणपत्र भी मौके पर प्रदान किया जाएगा। उन्होंने समस्त दिव्यांगजनों से इस कैम्प का लाभ उठाने का अनुरोध किया। इस दौरान जिला दिव्यांगजन कल्याण अधिकारी कृष्णकांत राय  सहित विभिन्न अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर