मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना: 234 जोड़े दाम्पत्य सूत्र में बंधे

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh

देवरिया टाइम्स

महाराजा अग्रसेन इंटर कालेज के परिसर में आज आयोजित मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत कुल 234 जोड़े एक दुजे के बंधन में बंधे, जिसमें 221 हिन्दू जोडे का विवाह हिन्दू रीतियों से तथा 13 मुस्लिम जोडो का निकाह सम्पन्न कराया गया। नवदम्पतियों को कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, मत्स्य राज्य मंत्री जय प्रकाश निषाद, सदर सांसद रमापति राम त्रिपाठी, गन्ना विकास उपाध्यक्ष नीरज शाही, जिलाधिकारी अमित किशोर, पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र, मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जी एन, अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुवर पंकज सहित अतिथियों, जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा भावभीनी बिदाई की गयी। आयोजित यह वैवाहिक कार्यक्रम भव्य एवं आकर्षक रहा। कार्यक्रम का शुभारम्भ कृषि मंत्री श्री शाही एवं राज्य मंत्री श्री निषाद द्वारा द्वारा दीप प्रज्वलन के साथ किया गया।


समारोह के मुख्य अतिथि कृषि मंत्री श्री शाही ने कहा कि गरीबों की शादी धूमधाम एवं भव्यता के साथ सुनिश्चित हो, इसके लिये मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना संचालित की गयी है। आज इसी योजना के तहत यह भव्य कार्यक्रम आयोजित हुआ। उन्होने कहा कि यह अत्यन्त ही सराहनीय तथा बेटी को संरक्षण देने वाला योजना है। उन्होने मिशन शक्ति कौशल, विकास सहित अनेक संचालित महत्वाकांक्षी योजनाओं की चर्चा की एवं नव दम्पतियों को विवाह बंधन की शुभकामनाये देते हुए उनके उज्वल भविष्य की कामना की।


मत्स्य राज्य मंत्री श्री निषाद ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि सबका साथ-सबका विकास के साथ गरीबों के कल्याण का कार्य किया जा रहा है। उनको छत, बिजली, शौचालय सहित हर प्रकार से गरीब कल्याण की योजना प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री जी द्वारा चलाई गयी है और उसपर कार्य भी किया जा रहा है। उन्होने नवदम्पतियों के जीवन सार्थक एवं मंगलमय हो, इसकी कामना करते हुए कहा कि आर्थिक कठिनाईयों के कारण गरीब परिवारों को अपनी बेटियों की शादी के लिये कठिनाईयां होती थी। इस परेशानियों के दृष्टिगत मा0मुख्यमंत्री जी द्वारा यह योजना चलाई गई, ताकि खुशी व गाजे-बाजे व भव्य आयोजनो के साथ उनकी भी शादी हो सके। उन्होने कहा कि इस योजना के तहत 35 हजार रुपये की धनराशि लडकी के खाते में भेजी जाती है तथा घर-गृहस्थी व श्रृंगार के 10 हजार रुपये तक की सामाग्री उन्हे प्रदान कर बिदा की जाती है तथा 6 हजार रुपये प्रति जोडे पर खान-पान व अन्य व्यवस्थाओं पर व्यय किया जाता है। इस प्रकार 51 हजार रुपये की धनराशि एक जोडे की शादी पर व्यय की जाती है औै भव्य आयोजन कर उनकी शादियां सम्पन्न करायी जाती है।


जिलाधिकारी अमित किशोर ने नव दम्पतियों को उनके मंगलमय जीवन की कामना की तथा सभी अतिथियों के प्रति आभार जताया। उन्होने हर विधानसभा में इस तरह के कार्यक्रम कराये जाने को कहा। उन्होने कहा कि श्रम विभाग द्वारा भी विवाह कार्यक्रम की योजना संचालित है, इसके तहत भी बृहद कार्यक्रम कराया जा सकता है। उन्होने यह भी कहा कि इस योजना में कोई लक्ष्य नही है। इच्छुक सभी जोडे अपनी शादी इसके माध्यम से करा सकते है।
पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र ने कहा कि यह अत्यन्त ही पवित्र योजना है। आज इसके माध्यम से एक साथ एक मण्डप में दाम्पत्र सूत्र में बडी संख्या में बध रहे है, जिसके हम सभी साक्षी है। उन्होने सभी जोडो को शुभकामनायें दीं।
आयोजित इस कार्यक्रम में बांसगांव सांसद प्रतिनिधि ऐडवोकेट संजय सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डा आलोक पाण्डेय, उप जिलाधिकारी सदर सौरभ सिंह, नगरपालिका अध्यक्ष अलका सिंह, जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार राय, डीसी मनरेगा गजेन्द्र तिवारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी रामपाल यादव, जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्णकान्त राय, जिला प्रोबेशन अधिकारी प्रभात कुमार सहित जिला स्तरीय अधिकारी गण, खण्ड विकास अधिकारी गण, शम्स प्रवेज, अम्बिकेश पाण्डेय, संजय तिवारी, सी पी सिंह सहित प्रबद्धजन व परिवारी जन, खंड विकास अधिकारी गण व अन्य जुडे विभागो के अधिकारी व कर्मचारी गण आदि उपस्थित रहे एवं नव विवाहितों के सुखमय जीवन की कामना किये।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here