सीडीओ ने की जल जीवन मिशन (ग्रामीण), प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) एवं सोशल आडिट के योजनाओं समीक्षा


देवरिया टाइम्स। मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार ने आज जल जीवन मिशन (ग्रामीण), प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) एवं सोशल आडिट के योजनाओं की गुगल मीट के माध्यम से समीक्षा की तथा आवश्यक निर्देश दिए।
जल जीवन मिशन योजना (ग्रामीण) की समीक्षा में अधिशासी अभियन्ता जल निगम (ग्रामीण) द्वारा अवगत कराया गया कि मे० एल०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० 236 नग परियोजनाओं का कार्य प्रारम्भ करा दिया है, जिसमें शिरोपरि जलाशय 114 नग का कार्य प्रगति पर है, 827.00 कि०मी० पाइप लाइन ग्राम पंचायतों में डाल दी गयी है व FHTC 34026 नग कनेक्शन कर दिये गये हैं, मे० गायत्री प्रोजेक्ट लि० द्वारा 194 नग परियोजना का कार्य प्रारम्भ कराया गया है,

जिसमें शिरोपरि जलाशय 29 नग का कार्य प्रगति पर है, 634.00 कि०मी० पाइप लाइन ग्राम पंचायतों में डाल दी गयी है व FHTC 27506 कनेक्शन कर दिये गये हैं एवं मे० रित्विक कोया द्वारा निर्धारित लक्ष्य 260 ग्राम पंचायत के सापेक्ष मात्र 46 डी०पी०आर० बनाये है। उक्त के सम्बन्ध में अवगत कराना है कि 68 ग्राम पंचायत के डी०पी०आर० तैयार कर साइन कराते हुए DWSM की बैठक में अगले वृहस्पतिवार तक प्रस्तुत किये जाये। कवर एग्रीमेन्ट कुल 634 के सापेक्ष वर्तमान तक 536 ही तैयार कराये गये है।


तीनो फर्मों के धीमी प्रगति को बढ़ाने हेतु कडे निर्देश दिये गये। मे० गायत्री प्रोजेक्ट लिए प्रोजेक्ट मैनजर अनिल कुमार यादव व मे० एल०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० एच०पी० सिंह को निर्देश दिये गये है कि जितनी योजनाओं का SLSSC Approved हो गया है उसको तत्काल ट्राई पार्टी एग्रीमेन्ट डी०पी०आर०ओ० के कार्यालय में जमा करायें। साथ ही यह भी निर्देश दिये गये कि मे० एली०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० को FHTC 10000 नग से गायत्री प्राजेक्ट लिए FHTC 10000 नग कनेक्शन की प्रगति को एक सप्ताह के अन्दर बढ़ाये। 15 नवम्बर, 2022 तक मे० एल०सी० इन्फ्रा को 8 परियोजना व मे० गायत्री प्रोजेक्ट लि० को 2 परियोजना पूर्ण करना है। निर्देशित किया गया कि पाइप लाइन बिछाने के लिए मिट्टी की खुदाई का कार्य दोनो फर्मों द्वारा किया जा रहा है एवं सड़क से न्यूनतम डेढ़ मी0 की दूरी पर ही पाइप लाइन बिछाने का कार्य किया जाय व पाइप लाइन बिछाने के उपरान्त ट्रेच की मराई की जाये। वहीं पी0डी0डब्ल्यू0डी० की क्षतिग्रस्त सड़क को तत्काल सही किया जाय। धीमी प्रगति होने के कारण तीनों फर्मों को अधिशासी अभियन्ता जल निगम (ग्रामीण) द्वारा नोटिस देने का निर्देश दिये गये।


सोशल आडिट की समीक्षा में वित्तीय वर्ष 2019-20 में विकास खण्ड भागलपुर में 1 भाटपाररानी में 2, लार में 15 एवं बरहज में 07 प्रकरण वसूली / कार्यवाही हेतु लम्बित पाये जाने पर सम्बन्धित कार्यक्रम अधिकारी एवं अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी को ‘चेतावनी’ निर्गत करते हुए निर्देश गये कि लम्बित प्रकरण के सम्बन्ध में आवश्यक कार्यवाही अगले सप्ताह के बैठक के पूर्व करना सुनिश्चित करें। वित्तीय वर्ष 2021-22 मे विकास खण्ड बैतालपुर में 5, बनकटा में 4, बरहज में 1, लार में 15 एवं तरकुलवा मे 08 प्रकरण वसूली / कार्यवाही हेतु लम्बित पाये जाने पर सम्बन्धित कार्यक्रम अधिकारी एवं अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी को ‘चेतावनी’ निर्गत करते हुए निर्देश गये कि लम्बित प्रकरण के सम्बन्ध मे आवश्यक कार्यवाही अगले सप्ताह के करते हुए निर्देश गये कि लम्बित प्रकरण के सम्बन्ध मे आवश्यक कार्यवाही अगले सप्ताह के बैठक के पूर्व करना सुनिश्चित करें।


प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण वर्ष 2021-22 के अन्तर्गत जनपद देवरिया अन्तर्गत तृतीय किस्त निर्गत करने हेतु कुल 11 आवास अवशेष है, जिसमें बैतालपुर 01, बनकटा 02, बरहज 01, भलुअनी 02, भटनी 03, सलेमपुर 02 आवास लम्बित है। समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि 03 दिवस के अन्दर भुगतान किया जाना सुनिश्चित करें। पूर्णता के सम्बन्ध में निर्देशित किया गया कि पूर्णता की कार्यवाही पर विशेष ध्यान दिया जाए एवं 10 नवंबर तक प्रत्येक दशा में पूर्णता की प्रगति शत प्रतिशत किया जाना सुनिश्चित करें।
प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण वर्ष 2020-21 की समीक्षा में पाया गया कि जनपद देवरिया अन्तर्गत वर्ष 2020-21 में तृतीय किस्त निर्गत करने हेतु कुल 38 आवास अवशेष है, जिसमें बैतालपुर 07, बनकटा 10, बरहज 00, भागलपुर 04, भलुअनी 02, भटनी 04 भाटपाररानी 00, सदर 01, देसही देवरिया 01, गौरीबाजार 02, लार 03, पथरदेवा 02, रूद्रपुर 01, सलेमपुर 01, आवास लम्बित है। जिसके सम्बन्ध में निर्देशित किया गया कि आवास के निर्माण की मानीटरिंग की जाये। निर्माण में देरी कर रहे परिवारों पर दबाव बनाकर निर्माण कार्य पूर्ण कराये एवं 10 नवंबर तक प्रत्येक दशा में पूर्णता की प्रगति शत् प्रतिशत किया जाना सुनिश्चित करें। बैठक में समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि अपने विकास खण्ड के फिल्ड स्तर के कर्मचारियों द्वारा आवास के निर्माण की दैनिक मानिटरिंग कराई जाये, इसमें किसी प्रकार की शिथिलता क्षम्य नही होगी।
प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण वर्ष 2020-21 एवं 2021-22 अन्तर्गत द्वितीय किस्त निर्गत हुए लाभार्थियों के आवास 10 नवंबर तक पूर्ण करने के निर्देश दिए गये। 07 नवंबर को आयोजित होने वाली बैठक में सभी सूचनाओं सहित प्रतिभाग करने हेतु निर्देश दिए गये।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर