सीडीओ ने किया विकास खण्ड बनकटा के ग्राम पंचायतो मे मनरेगा योजनान्तर्गत कराये जा रहे कार्य का निरीक्षण


देवरिया टाइम्स। ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा 21 मई 2021 को एरिया ऑफिसर ऐप लॉच किया गया है। जिसे समस्त जिलाधिकारी / समस्त मुख्य विकास अधिकारी / समस्त कार्यक्रम अधिकारी को अपने मोबाइल पर डाउनलोड करते हुए महात्मा गांधी नरेगा अन्तर्गत उक्त ऐप पर प्रतिमाह ऑनगोइंग कार्यों का निरीक्षण कर कार्यों की फोटो सहित विन्दुवार निरीक्षण आख्या अपलोड करने के निर्देश दिये गये थे।


उक्त के क्रम में मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार द्वारा विकास खण्ड बनकटा के कुल 05 ग्राम पंचायतो बखरी पिपरा दक्षिण पट्टी, पिपरा उत्तर पट्टी, परसिया छितही सिंह एवं सोहनपुर ग्राम पंचायतों के कुल 13 कार्यों का निरीक्षण किया गया निरीक्षण के समय खण्ड विकास अधिकारी बनकटा निरंकार मिश्र, सन्तोष वर्मा अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा सेल देवरिया, अजय कुमार अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी, बनकटा, तकनीकी सहायक, ग्राम पंचायत सचिव, ग्राम रोजगार सेवक एवं सम्बन्धित ग्राम प्रधान उपस्थित रहे।
ग्राम पंचायत बखरी में दो सी०सी० रोड के निर्माण कार्य कार्य करते हुए पाये गये कार्य स्थल पर सी०आई०बी० लगाये गये थे,

पिपरा दक्षिण पट्टी में कुल 10 श्रमिक कुल 05 सी०सी० कार्यों का निरीक्षण किया गया गया जिसपर कुल 28 श्रमिक कार्य करते हुए पाये गये, पिपरा उत्तर पट्टी में बनाये जा रहे पार्क का निरीक्षण किया गया निरीक्षण के समय कार्य बन्द पाया गया जिसके सम्बन्ध में कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिये गये कि कार्य म प्रारम्भ करते हुए हुए वर्तमान वित्तीय वर्ष मे अवशेष कार्य को पूर्ण कर लिया जाये परसिया छितही सिंह में सी०सी० रोड निर्माण कार्य संतोषजनक नही पाये जाने पर तकनीकी सहायक उमेश यादव को चेतावनी देते हुए निर्देशित किया गया कि चल रहे कार्य का निरीक्षण करते रहें एवं गुणवत्ता एवं मानक के अनुरूप निर्धारत समय में कार्य को पूर्ण कराया जाये रामपुर बुजुर्ग मे पोखरी खुदाई पर कुल 40 श्रमिक कार्य करते हुए पाये गये जिसपर मोबाईल मानिटरिंग के द्वारा उपस्थिति दर्ज की गयी थी एवं कार्य स्थल पर सी०आई०बी स्थापित थी. अन्त में ग्राम पंचायत सोहनपुर में पार्क निर्माण कार्य पर कुल 07 श्रमिक कार्य करते हुए पाये गये।


उक्त कार्यों पर निरीक्षण के दौरान खण्ड विकास अधिकारी / कार्यक्रम अधिकारी बनकटा एवं अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिये गये कि चल रहे कार्यों पर स्वयं जायें एवं कार्य की गुणवत्ता की जांच करते रहें जिससे कार्य मानक के अनुरूप व समय पर पमर्ण हो सके।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर