धूमधाम से हुआ बुद्धपूर्णिमा का आयोजन



देवरिया टाइम्स। खरजरवा स्थित कलिंद इंटरमीडिएट कॉलेज खरजरवा देवरिया में हर्षोल्लास के साथ बुद्धपूर्णिमा मनाया गया। सर्वप्रथम विद्यालय के प्रधानाचार्य ने भगवान बुद्ध के चित्र पर पुष्पार्चन के साथ माल्यार्पण कर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की। उक्त अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य ने बुद्ध के जीवन दर्शन पर चर्चा करते हुए कहा कि महात्मा बुद्ध का अहिंसा, करुणा और मैत्री का संदेश मानवता का अमूल्य निधि है और उनका संदेश प्रकृति ही ईश्वर है विज्ञान ही सत्य है इंसानियत ही धर्म है और कर्म ही पूजा है।

मानवता ही श्रेष्ठ धर्म है एवं मानव की मदद ही सर्वोपरि सेवा है। हजार लड़ाई जीतने से अच्छा है अपने आप को जितना, फिर जीत तुम्हारी इसे तुमसे कोई नहीं ले सकता ना स्वर्ग दूत ना राक्षसों द्वारा। बुद्ध भगवान बाह्य आडंबर, छुआछूत ,अंधविश्वास के हमेशा खिलाफ रहते थे। कहते थे की मन में सुंदरता होनी चाहिए न की तन की । तन की सुंदरता सिर्फ दिखावा है जबकि मन की सुंदरता लोगों को सच्चा राह दिखाता है। उक्त अवसर पर प्रधानाचार्य परिषद के प्रांतीय उपाध्यक्ष डॉक्टर मिथिलेश कुमार सिंह ने कहा कि बुद्ध ने हमें इंसानियत का पाठ पढ़ाया है। वे कहते थे कि इंसान, इंसान के काम आये यही इंसानियत है।

भगवान बुद्ध अपना सारा जीवन इंसानियत के लिए समर्पित कर दिया था। उनका बताया हुआ अहिंसा और मैत्री का संदेश आज भी विश्व बंधुत्व के लिए प्रासंगिक है। यही कारण है कि भारत आज विश्व गुरु बनने के पथ पर अग्रसर है।
उक्त अवसर पर विद्यालय के शिक्षक श्रीनिवास सिंह, रामायण मणि, लाल बाबू यादव, शीला मिश्रा, कमलेश सिंह, संदीप कुमार मल्ल, राम सुमेर पांडे, प्रभु यादव , प्रिंस, आयुष, प्रशांत,विनित कनौजिया, आदि विशेष रुप से मौजूद थे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर