देवरिया में हुआ अटल कम्युनिटी इनोवेशन सेंटर का उद्घाटन, स्थानीय उद्यमियों के लिए होगा सहायक


देवरिया टाइम्स. रविवार को राघव नगर देवरिया में अटल कम्यूनिटी इनोवेशन सेंटर जागृति का भव्य उद्घाटन संपन्न हुआ। एसीआईसी जागृति का कार्य है स्थानीय स्तर पर नवाचार को बढ़ावा देना और उद्यमियों को प्ररित और प्रोत्साहित करना।


कार्यक्रम में अटल इनोवेशन मिशन के मिशन डायरेक्टर डॉ. चिंतन वैष्णव, देवरिया जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह, जागृति के अध्यक्ष शरत बंसल, जागृति उद्यम केंद्र – पूर्वांचल और जागृति यात्रा के संस्थापक शशांक मणि, सदर विधायक शलभ मणि त्रिपाठी, एआईएम के प्रोग्राम डायरेक्टर मंगलेश यादव, यंग फेलो वितास्ता तिवारी सहित एसीआईसी के समस्त उद्यमी व स्थानीय लोग उपस्थित थे।


कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्जवलन से हुई, एसीआईसी-जागृति के सीईओ आशुतोष कुमार मिश्रा ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। इसके बाद मंगलेश यादव ने एसीआईसी के कार्यों पर प्रकाश डाला और आगे कहा की एसीआईसी जागृति इस क्षेत्र में जो काम कर रही है उसे देखकर लग रहा है कि वह नवाचार और उद्यमियों को प्रेरित व प्रोत्साहित करने में सक्षम है।


जागृति के अध्यक्ष शरत बंसल ने जागृति का परिचय दिया और देवरिया सहित देशभर में चल रहे जागृति आंदोलन के कार्यों और उपलब्धियों के बारे में सभी को अवगत कराया। कार्यक्रम में पधारे अरविंद राय ने एसीआईसी-जागृति के साथ अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि जागृति ने जो हमारी सहायता की वह अतुल्यनीय है।

उन्होंने अपने नवाचार जो कि एक इलेक्ट्रिक साइकिल है उसके बारे में बताते हुए कहा कि कोरोना महामारी के दौरान लोगों को जद्दोजहद करते देखा, इससे मुझे इलेक्ट्रिक साइकिल बनाने का विचार आया। मेरे इस नवाचार में जागृति द्वारा मुझे समय-समय पर मार्गदर्शन दिया गया और आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया गया।
देवरिया के जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने अपने विचार साझा करते हुए कहा कि एक उद्यमी को उसके उत्पाद का पर्याप्त मूल्य मिलना चाहिए। उन्होंने शशांक जी की प्रशंसा करते हुए कहा कि देवरिया में यह उद्घाटन होते हुए देखना मेरे लिए एक सुखद अनुभव है।
जागृति की संस्थापिका शशि त्रिपाठी ने कहा कि जब मैं देवरिया आई तब से ही मैंने यहां महिला सशक्तिकऱण के लिए कार्य करना शुरु कर दिया।
जागृति उद्यम केंद्र – पूर्वांचल और जागृति यात्रा के संस्थापक शशांक मणि ने कहा कि एसीआईसी के यहां आने से अटल जी की सोच यहां आई है। उन्होंने एसीआईसी की टीम को देवरिया आने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने आगे कहा कि मध्य भारत के 240 जिलों में 60 प्रतिशत भारत निवास करता है, हमें मध्य भारत को आगे ले जाना है। देवरिया की जनता हमारे लिए हनुमान है और हमारी टीम जामवंत है। हमारा काम है यहां कि ऊर्जा को बढ़ावा देकर आगे ले जाना।


सदर विधायक शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि आज जिस महापुरूष के नाम पर इस कार्य का शुभारंभ हो रहा है मैं आशा करता हूं कि यह संस्था भी उनके विचारों की तरह देश को आगे ले जाएगी। स्थानीय उद्यमियों को बढ़ावा देने का कार्य जागृति कर रही है।


इस दौरान चिंतन वैष्णव ने कहा कि आज का दौर उद्यमिता का दौर है इसे आगे ले जाने की जरूरत है। क्योंकि गरीबी की समस्या बिना उद्यमिता के संभव नहीं है। हमारे देश के गांव-गांव में यह क्षमता है कि वे अपनी समस्याएं हल कर सकते हैं, जरूरत है उन्हें प्रोत्साहन देने की। इसे आगे ले जाने के लिए पूरे देश में 50 एसीआईसी खुलने जा रहे हैं।
वक्तव्य के बाद एसीआईसी कार्यालय का औपचारिक उद्घाटन किया गया, कार्यक्रम में मंच संचालन रजत श्रीवास्तव ने किया व धन्यवाद ज्ञापन शिल्पी सिंह ने किया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ।


अटल कम्युनिटी इनोवेशन सेंटर के बारे में:
ACIC का लक्ष्य उन नवोन्मेषी विचारों का समर्थन और पोषण करना है जो बड़े विचारों का आकार ले सकते हैं और बेहतर कल के लिए समाज को बदलने में मदद कर सकते हैं। अटल इनोवेशन मिशन, NITI Aayog और जागृति के संयुक्त तत्वावधान में शुरू किए गए इस केंद्र से पूर्वांचल के मेहनती, भावुक और साहसी व्यवसायियों को लाभ होगा जो अपने व्यवसाय को ऊंचाइयों पर ले जाना चाहते हैं।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर