छात्र जीवन मे लक्ष्य निर्धारण नशा मुक्ति मे सहायक: देवेन्द्र शर्मा

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh

देवरिया टाइम्स


सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार तथा मद्य निषेध विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार के संयुक्त तत्वाधान में ड्रग एब्यूज के दुष्परिणामों पर चर्चा परिचर्चा और सहभागिता पर तीन दिवसीय कार्यशाला का समापन राजकीय इंटरमीडिएट कॉलेज के सभागार में हुआ। पूर्व जिला विद्यालय निरीक्षक और कालेज के प्रधानाचार्य प्रदीप कुमार शर्मा जी मुख्यअतिथि के रूप मे रहे कार्यक्रम की अध्यक्षता राजकीय इंटरमीडिएट कॉलेज के उप प्रधानाचार्य महेन्द्र प्रसाद ने किया।

कार्यक्रम का आयोजन एलर्ट एक्शन फॉर सोशल डेवलपमेंट उनवल गोरखपुर के द्वारा किया गया। प्रधानाचार्य श्री प्रदीप कुमार शर्मा ने इस प्रकार के आयोजनों की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि समाज में इस प्रकार के आयोजन समय-समय से होते रहने चाहिए जिससे न सिर्फ बच्चों बल्कि उनके अभिभावकों को भी ड्रग के दुष्परिणामों का पता चले और इनसे इसे सावधान रखा जा सके। कार्यक्रम के आयोजन सचिव एवं मुख्य वक्ता डॉ रजनीश राय द्वारा आए हुए अतिथियों का और आगंतुकों का स्वागत करते हुए कार्यक्रम की विस्तृत रूपरेखा प्रस्तुत की गई तथा आज के विषय पर बोलते हुए बताया की, हेमिल्टन जो एक महान इवोल्यूशनरी बायोलॉजीस्ट थे उन्होने अपने रूल में कहा कि “Benefit is greater than cost” जो cost आप pay कर रहे हैं “in the form of money” “in the form of time” Benefit अगर उससे ज्यादा है तब तो Evolution होगा अगर ऐसा नहीं करते हैं तो Evolution नहीं होगा। In general, हम देखें तो मादक पदार्थों जैसे बीड़ी, तंबाकू, गांजा, चरस, अफीम, सिगरेट, गुटखा, शराब इत्यादि इन सब का कोई भी पॉजिटिव पहलू नहीं है और यह बात सबको पता है,

क्योंकि यह सब हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही हानिकारक हैं और नाना प्रकार की लाइलाज बीमारियों को निमंत्रित करते हैं। इसके बावजूद सब जानबूझकर गलती करें तो यह बेमानी है। यानी Cost ज्यादे Pay कर रहे हैं परंतु Benefit एक दम नहीं है। अब आप खुद बताइए कि क्या मादक पदार्थों एवं मदिरापान करने से हमारा विकास संभव है? तो जवाब मिलेगा! नहीं। आखिर क्यों हम वह कार्य करें? जिससे हमारा विकास ही बाधित होता हो। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के योगेन्द्र मिश्रा द्वारा किया गया तथा अंत में आभार ज्ञापन गोविन्द सिंह जी द्वारा किया गया। नवचेतना अंतर्गत निबंध प्रतियोगिता मे श्रुति, कुंमकुम, काजल, पोस्टर प्रतियोगिता मे निधि, तन्नू, रोहित तथा भाषण प्रतियोगिता में श्रेया, अविरल, शाहबाज ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय, तृतीय पुरस्कार प्राप्त किए।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here