निर्वाचन कार्य को निष्पक्षता व पारदर्शिता से कराये सम्पन्न, सभी अधिकारी अपने कार्य आचरण को रखें निष्पक्ष-आयुक्त

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh

देवरिया टाइम्स

मण्डलायुक्त जयंत नार्लिकर आज डीआईजी डा0 प्रीतिंदर के साथ विकास भवन के गांधी सभागार में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियों, कोविड-19 के रोकथाम संबंधी कार्यो एवं मेडिकल कालेज की निर्माण कार्यो की प्रगति समीक्षा किये। इस दौरान उन्होने निष्पक्ष, शान्तिपूर्ण व पारदर्शी निर्वाचन कार्य को सम्पन्न कराये जाने के लिये आवश्यक निर्देश दिए।


आयुक्त श्री नार्लिकर ने कहा कि चुनाव कार्यो में निष्पक्षता बहुत जरुरी है, इसे जुडे सभी अधिकारी अपने कार्य व्यवहारों में भी निष्पक्षता बरतेगें। उन्होने यह भी कहा कि अवैध शराब निष्कर्षण व परिचलन पर सचेत रहने की आवश्यकता है। उन्होने सूचनाओं की इनपुट सिस्टम को विकसित करने तथा उस पर ससमय कार्यवाही किये जाने का निर्देश दिया। कहा कि सभी अधिकारी पूरी तरह से सजग व सर्तक रहें और जनपद में स्वतंत्र निष्पक्ष शंातिपूर्ण चुनाव सम्पन्न कराने में अपना योगदान दें। मण्डल स्तर पर संसाधनो की उपलब्धता के लिये जो भी अपेक्षायें होगीं वह उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होने उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी, जोनल मजिस्ट्रेट, सेक्टर मजिस्ट्रेट को सभी बूथो का निरीक्षण अनिवार्य रुप से सुनिश्चित कर लिये जाने को कहा। कहा कि चुनाव टीम वर्क का कार्य है। प्रशिक्षण कार्य को प्रभावी तरीके से सम्पन्न कराया जाये और सभी बिदुओं की जानकारी इस दौरान जाये, जिसस कि चुनाव के दिन किसी प्रकार की कोई कठिनायी न हो। संवेदनशील एवं अति संवेदनशील बूथो का भ्रमण संयुक्त रुप में एसडीएम एवं क्षेत्राधिकारी करें। निरोधात्मक कार्य प्राथमिकता के साथ सुनिश्चित करायें। किसी भी स्तर पर एहतियाती उपायो को अपनाये जाने में कोई कोताही नही होनी चाहिये। मतदान के दिन कोविड-19 से बचाव के उपायो को भी अपनाया जाये। मतदान पार्टियों को सैनेटाइजर, मास्क आदि की उपलब्धता सुनिश्चित कराया जाये।


आयुक्त श्री नार्लिकर कोविड-19 के रोकथाम के कार्यो की प्रगति समीक्षा के दौरान कहा कि कोविड जांच की सैम्पलिंग बढाये। सभी प्रभारी चिकित्साधिकारी टेस्टिंग कार्य को स्मार्ट टेेस्टिंग का रुप दें। टारगेट टेस्टिंग व कान्टेक्ट टेस्टिंग को प्राथमिकता के साथ सुनिश्चित करायें तथा सभी डाटा इन्ट्री को भी प्रभारी चिकित्साधिकारी सुनिश्चित करायेगें। उन्होने यह भी कहा कि टेस्टिंग कार्यो में गुणवत्ता व संख्यात्मक पर भी ध्यान दें और कार्यो को पोर्टल पर अवश्य डालें। उन्होने यह भी कहा कि वैक्सीनेशन कार्यो को प्रभावी तरीके से पूर्ण किये जाये। इसके लिये उन्होने पेंशनर्स, इन्डस्ट्रीज, व्यापारिक संस्थाओं आदि की मीटिंग कर, उन्हे वैक्सीनेशन हेतु प्रेरित किये जाने हेतु निर्देश सीएमओ को दिया। कहा कि वैक्सीनेशन के लिये आधार व मोबाइल अवश्य ही लेकर जाने के लिये जन सामान्य को जानकारी दें। उन्होने भटनी एवं मझगावां पीएचसी का वैक्सीन वेस्टेज सर्वाधिक होने पर प्रभारी चिकित्साधिकारियों को सुधार लाये जाने हेतु सचेत किया तथा शिथिलता के लिये नाराजगी व्यक्त की।
मेडिकल कालेज के निर्माण कार्यो की समीक्षा के दौरान रोड, विद्युत एवं ड्रेनेज निर्माण कार्यो को प्राथमिकता के साथ सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश कार्यदायी संस्था को उन्होने दिया। बैठक उपरान्त उन्होने निर्माणाधीन मेडिकल कालेज के कार्यो का निरीक्षण किया। उन्होने इसमें बनने वाले सडकों का निरीक्षण मुख्य अभियंता पीडब्लूडी को आकर किये जाने का निर्देश दिया। कहा कि निर्माण कार्यो को शीघ्रता से पूर्ण किया जाये।


डीआईजी डा0 प्रीतिंदर ने पंचायत चुनाव के दृष्टिगत कहा कि अवैध एवं मिलावटी शराबों पर प्रभावी नियंत्रण सुनिश्चित किये जाये। संवेदनशील/अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रो पर विशेष रुप से नजर रखें। फोर्स टीम की पर्याप्त उपलब्धता रहेगी। शान्तिपूर्ण चुनाव सम्पन्न कराने के लिये हर एक एहतियाती तरीको को अपनाये। असामाजिक एवं चुनाव में खलल डालने की मंशा रखने वाले लोगो पर सख्ती से कार्यवाही करें। छोटी-छोटी घटनाओं को संज्ञान में लें और उस पर त्वरित कार्यवाही करें। उन्होने आबकारी अधिकारी को मिलावटीशराब का सेवन न करने हेतु पब्लिक एड्रेस सिस्टम को सक्रिय कर जागरुक किये जाने का निर्देश दिया।
जिलाधिकारी आशतोष निरंजन ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव, कोविड-19 एवं मेडिकल कालेज के निर्माण के कार्य प्रगतियों से अवगत कराया तथा मण्डलायुक्त द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन कराये जाने हेतु उन्हे आश्वस्त किया। पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र पंचायत चुनाव के दृष्टिगत की गयी निरोधात्मक कार्यवाहियों एवं पुलिस व्यवस्थाओं की तैयारियों की विस्तृत जानकारी प्रस्तुत की। सीडीओ शिव शरणप्पा जीएन ने पंचायत चुनाव के कार्य बिन्दुओं, कार्मिकों आदि की उपलब्धताओं आदि के संबंध में लेखा-जोखा प्रस्तुत किया।


इस अवसर पर अपर आयुक्त अजय कान्त सैनी, एडीएम एफआर उमेश कुमार मंगला, एडीएम प्रशासन कुवर पंकज, सीआरओ अमृत लाल बिन्द, अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सोनकर, ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट सुमित यादव, एसडीएम सदर सौरभ सिंह, रुद्रपुर संजीव कुमार उपाध्याय, भाटपाररानी ध्रुव कुमार शुक्ला, सीएमओं डा आलोक पाण्डेय सहित जुडे अन्य विभागो के अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here