तमाम उतार-चढ़ाव के बाद आखिरकार प्राचीन पद्धति ही हुई कारगर साबित


देवरिया टाइम्स

कोरोना महामारी को जड़ से समाप्त करने में आखिरकार आयुर्वेद ही कारगर साबित हुआ !केंद्र सरकार ने तमाम उतार-चढ़ाव के बाद कोरोना के इलाज के लिए आयुर्वेद पद्धति को उपयुक्त मानते हुए इसे मंजूरी दे दी है!
आरोग्य भारती के प्रांतीय उपाध्यक्ष डॉ अजीत नारायण मिश्र ने अपने निज आवास पर प्रेस वार्ता के दौरान हर्ष व्यक्त करते हुए केंद्र सरकार के ऐतिहासिक फैसले का स्वागत किया है!


श्री मिश्र ने बताया की कोरोना जैसी महामारी के इलाज के लिए हमारी प्राचीन चिकित्सा पद्धति आयुर्वेद को मान्यता देकर राष्ट्रहित में ऐतिहासिक कार्य किया गया है, आयुर्वेद और योग की महत्ता को समझते हुए केंद्र सरकार ने कोरोना जैसी महामारी का इलाज करने की शासन को मंजूरी देकर हर किसी के लिए सुलभ चिकित्सा दे दिया है! आयुर्वेद चिकित्सक किसी भी माइल्ड या मॉडरेट मरीज का होम आइसोलेशन में आयुर्वेदिक दवाओं को दे सकते हैं! यह आयुर्वेद के क्षेत्र में क्रांतिकारी और कारगर कदम है!

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर