देवरिया: दो संक्रमितों की रिपोर्ट आयी नेगेटिव, जनपद में अब केवल कोरोना का एक मरीज

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

देवरिया के विशुनपुर कला और भैंसा डाबर के संक्रमित पाए गए दोनों युवकों की जांच रिपोर्ट अब नेगेटिव आई है। दोनों की रिपोर्ट नेगेटिव आने से स्वास्थ्य महकमा और प्रशासन समेत ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है। दोनों युवक मुम्बई से लौटने के बाद कोरोना संक्रमित मिले थे। कोरोना संक्रमित पाए जाने के चलते हॉटस्पॉट घोषित गांव के लोगों को छूट मिलने की उम्मीद जग गई है।

तरकुलवा थाना क्षेत्र के फरेंदहा गांव निवासी बीमार केदार को एंबुलेंस से लेकर तीन लोग मुंबई से 29 अप्रैल को देवरिया पहुंचे। इनमें रामपुर कारखाना थाना क्षेत्र के विशुनपुर कला गांव निवासी और तरकुलवा के भैंसा डाबर निवासी एक व्यक्ति भी एंबुलेंस से साथ आया। 30 अप्रैल को विशुनपुर कला का एक व्यक्ति कोरना से संक्रमित पाया गया।

इसके बाद जिलाधिकारी अमित किशोर और पुलिस अधीक्षक डॉ श्रीपति मिश्र ने एक मई को गांव पहुंच हॉटस्पॉट घोषित करते हुए गांव के चारों और नाकेबंदी करा दी। संक्रमित पाए गए व्यक्ति से यात्रा संबंधी जानकारी अधिकारियों ने ली। इसके बाद भैंसा डाबर के एक व्यक्ति का सैंपल बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर भेजा गया। उसकी भी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद भैंसा डाबर और फरेंदहा को भी हॉटस्पॉट घोषित करते हुए चारों ओर से सील कर दिया। देवरिया में कोरोना संक्रमित पहली बार पाए जाने से स्वास्थ्य महकमा और प्रशासन के साथ-साथ ग्रामीण भी हलकान हो गए।

संक्रमित पाए जाने के बाद दोनों को बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में भर्ती करा दिया गया था। जबकि इनके संपर्क में आए लगभग डेढ़ सौ लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखकर सैंपल भेजा गया। हालांकि इन दोनों के अलावा किसी की भी रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई। अब शनिवार को दोनों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। रिपोर्ट नेगेटिव आने से अब जिले में केवल एक कोरना पॉजिटिव युवक रह गया है। इस बात की जानकारी मिलते ही हॉटस्पॉट घोषित दोनों गांव के ग्रामीणों ने राहत भरी सांस ली है। दोनों गांव के लोग 1 सप्ताह से अपने घर में ही नजरबंद थे। रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उन्हें लाकडाउन के दौरान दुकानें खोलने और खरीदारी करने की छूट मिलने की उम्मीद बढ़ गई है।

विशुनपुर कला और भैंसाडाबर के संक्रमित व्यक्तियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। लेकिन अभी एक और जांच होने के बाद ही उनको मेडिकल कॉलेज से घर भेजने की अनुमति मिलेगी।
डॉ. डीबी शाही डिप्टी एमओ व नोडल अधिकारी

Ht मीडिया

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here