देवरिया : अजब पुलिस की गजब कहानी, चीन सीमा पर तैनात जवान की पत्‍नी-बेटी से गांव में छेड़छाड़

देवरिया टाइम्स

देवरिया के भटनी थाने के पूर्व प्रभारी रहे बर्खास्त इंस्पेक्टर भीष्मपाल सिंह यादव की मां-बेटी के साथ की गई करतूत का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि लार में भी एक  प्रकरण सामने आया है। यहां छेड़खानी के मामले में कार्रवाई की जगह पुलिस दावत मांग रही है। पीड़ित मां-बेटी ने गुरुवार को एसपी से शिकायत की। एसपी ने सोमवार को थाना प्रभारी, हलका इंचार्ज और सभी सिपाहियों को तलब किया है। सभी को पीड़ित के सामने पूछताछ होगी।

लार थाना क्षेत्र के एक गांव के रहने वाले एक व्यक्ति सेना में जवान हैं। उनकी तैनाती चीन बॉर्डर पर लद्दाख में है। पत्नी और दो बेटियां गांव से बाहर मकान बनवाकर रहती हैं। महिला ने एसपी को दिए गए प्रार्थना पत्र में आरोप लगाया है कि दूसरे गांव के कुछ लोग उसके गांव में जानवर चराने के लिए आते हैं। वे उसकी बेटियों और उससे छेड़खानी करते हैं।

विरोध करने पर मकान पर ईंट और पत्थर चलाते हैं। पांच जून को उन लोगों ने उसकी बेटी की पिटाई कर दी थी। इस मामले में लार पुलिस ने केस तो दर्ज कर लिया, लेकिन कोई गिरफ्तारी नहीं की। इससे आरोपियों का मन और बढ़ गया है। गुरुवार को मां-बेटी एसपी कार्यालय पहुंचीं और एसपी से घटना के बारे में जानकारी दी। दोनों ने बताया कि एक सिपाही आया और कहा कि मदद तभी करेंगे जब यहां दावत दोगी। महिला का कहना है कि जब मेरे घर कोई पुरुष सदस्य नहीं है तो उनको कैसे दावत खिलाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here