कोरोना से ठीक हुई डॉक्टर ने लगायी फांसी ,मौत

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

देवरिया जिले के पिपरा दौला कदम पीएचसी पर तैनात महिला डॉक्टर सविता यादव (35) ने शुक्रवार की रात पडरौना के नौका टोला स्थित अपने घर के कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी। दो महीने पूर्व वह कोरोना से संक्रमित हुई थींं। ठीक होने के बाद ही अवसाद में चली गई थींं। उनके पति एमआर हैं और उनकी छह साल की एक बेटी है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।डॉ सविता यादव देवरिया के देसही देवरिया ब्लॉक के पिपरा दौलाकदम पीएचसी पर तैनात थींं।वह 15 दिन तक मेडिकल कॉलेज में और इसके बाद घर पर आइसोलेशन में थी।ससुराल वालों के अनुसार अकेले पड़ने के कारण अवसाद में थीं। बीच में दो-तीन बार ड्यूटी पर भी गईं ले‍किन अवसाद से बाहर नहीं आ पा रही थींं। शुक्रवार की देर शाम को जब घर पर कोई नहीं था, उन्होंने अपने कमरे में फंदा लगाकर जान दे दी। करीब एक घंटे बाद लौटे परिवारीजनों को इसकी जानकारी हुई।

मिली सुचना पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकरपोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। कमरे से एक सुसाइड नोट भी मिला,जिसमें उन्होंने लिखा है कि आत्महत्या, उनका खुद का निर्णय है। इसके लिए उनके पति व परिवार को परेशान न किया जाए। 

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here