शाट सर्किट से निकली चिंगारी ने किसानों के मेहनत पर पानी फेरा

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh


भटनी नोनापार
नोनापार गांव के के किसान शिवकुमार तिवारी उर्फ छोटे पुत्र बसन्त तिवारी फुलेना तिवारी रमाकांत कुशवाहा के खेत में शार्ट सर्किट के कारण दिन में लगभग 12 बजे के करीब आग लग गई. आग लगने बाद जब लपटें उठीं तो आस पास के लोगों ने हल्ला मचाया तब गांव के लोगों ने भारी संख्या में पहुंच कर किसी तरह आग पर काबू पाने में सफल हुऐ आग लगने से किसानो के लगभग दस एकड़ गेहूं की लगी फसल जल के खाक हो गई.कई किसान तो बदहवास हालत में दिखे ईश्वर की कृपा रही नहीं तो हवा जिस तरह से अपने प्रचंड रूप में चल रहा था.

अगर समय रहते नोनापार ग्रामवासियों ने अथक प्रयास नहीं किया होता तो सारी फसल जलकर राख हो गई होती किसानों ने उपजिलाधिकारी सलेमपुर लेखपाल तहसीलदार तथा फायर ब्रिगेड किसी के समय पर उपस्थित न होने पर आक्रोश व्यक्त किया कहा कि इस मौसम में किसानों की फसल तैयार हो रही है. और आग लगने कि घटना हर बर्ष बड़े पैमाने पर इस मौसम होती है. लेकिन फिर भी प्रशासन हर बर्ष आगजनी की घटनाओं से सबक नहीं लेता है हर बर्ष किसानों के हजारों एकड़ फसल राख होते रहते हैं मुवावजे के नाम पर किसानों को छुनछुना दिया जाता है ओ भी जो दौड़ भाग कुछ दे ले के कुछ पा जाता है.

हर किसान को ओ भी नहीं मिल पाता गांव के युवाओं ने कहा कि अगर जल्दी ही प्रशासन किसानों को मुआवजा नहीं मिला. तो हम सभी धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे मुख्य रूप से सत्येन्द्र उर्फ टिंकू तिवारी सिद्धू तिवारी हितेंद्र तिवारी सिनटु तिवारी मिनटु तिवारी सोनु तिवारी रमायन तिवारी टननु बाबा सोनु तिवारी आदि उपस्थित रहे

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here