उत्तराखंड त्रासदी: तपोवन में देवरिया का युवक लापता

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

उत्तराखंड त्रासदी में देवरिया के भटनी क्षेत्र का भी एक युवक लापता है। वह तपोवन डैम में बतौर बेल्डर कार्यरत युवक से दो दिन से परिवारवालों का संपर्क नहीं हो पा रहा है। उसकी पत्नी ने डीएम को पत्र लिखकर गुहार लगाई है। मंगलवार की सुबह सलेमपुर के एसडीएम ओमप्रकाश बरनवाल व सीओ पंचमलाल यादव ने युवक के घर पहुंचकर परिजनों से पूरी जानकारी ली।

पिपरा देवराज निवासी संतोष यादव (40 वर्ष) उत्तराखण्ड के पीपलकोटि स्थित ओम मेटल कम्पनी में कार्यरत है। परिवारीजनों के अनुसार कम्पनी इस समय वहां बन रहे डैम में काम करा रही थी। उसमें संतोष वेल्डर के तौर पर काम करता था। वह 11 दिसम्बर को गांव से कंपनी में काम के लिए उत्तराखण्ड निकला। संतोष की पत्नी सुमन गांव के प्राथमिक विद्यालय में शिक्षामित्र के पद पर कार्यरत हैं। रविवार की शाम से पति का मोबाइल स्विच ऑफ होने के कारण उन्होंने रोते- बिलखते हुए इसकी जानकारी डीएम को दी। जिलाधिकारी अमित किशोर के निर्देश पर एसडीएम ओमप्रकाश बरनवाल व सीओ पंचमलाल पत्नी और परिवारीजन से मिलकर जानकारी ली। पूरा परिवार चिंतित है।


रविवार की सुबह पत्नी से हुई थी बात

सुमन देवी की माने तो रविवार की सुबह संतोष से मोबाइल पर बातचीत हुई थी। काम पर जाते समय उन्होंने परिवार का हाल जाना था। रात को टीवी देखते समय परिवार को जब हादसे की जानकारी हुई तो संतोष से मोबाइल पर सम्पर्क करने का प्रयास किया गया। पत्नी सुमन, मां जुगुलावती, पिता हरिवंश, बेटा अरुण, बेटी नेहा तथा निधि का अनहोनी की आशंका से रो-रो कर बुरा हाल है।

देवरिया के व्यक्ति के संदर्भ में सूचना मिलने पर परिवारीजनों से सम्पर्क कर पूरी जानकारी एकत्रित की गई है। उत्तराखण्ड सरकार से सम्पर्क कर लापता लोगों की जानकारी ली जा रही है। सूचना मिलते ही परिवार को सूचित किया जाएगा।
ओम प्रकाश बरनवाल उपजिलाधिकारी सलेमपुर

विज्ञापन

Multiple Slideshows

विज्ञापन:

विज्ञापन:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here