प्राथमिक शिक्षा के कायाकल्प में संकुल शिक्षकों की भूमिका महत्वपूर्ण – बीईओ

विज्ञापन


भटनी।
नगर क्षेत्र में स्थित बीआरसी परिसर में सोमवार को संकुल शिक्षकों की बैठक आयोजित की गयी। क्षेत्र के तेरह संकुल से आए पांच पांच शिक्षकों से शैक्षिक गुणवत्ता को सुधारने के लिए सुझाव लिए गए। इसकी शुरुआत मिशन प्रेरणा के तहत भाषा और गणित के लिए निर्धारित किए गए लक्ष्यों की जानकारी के साथ की गयी। बीईओ पिंगल प्रसाद राणा ने बैठक में कहा कि प्राथमिक शिक्षा में बहुत तेजी से सुधार हो रहा है। इसमें नए आयाम जोड़ने के लिए संकुल शिक्षकों की भूमिका काफी अहम होगी। शिक्षकों को नए नवाचारों से अवगत कराते हुए उनकी शिक्षण पद्धति में बदलाव के लिए उन्हें केवल प्रेरित करना होगा।

शिक्षकों को आईसीटी के तहत हो रहे बदलाव की समय समय पर जानकारी देनी होगी। उन्होंने संकुल शिक्षकों से शिक्षकों के मोबाइल फोन में दीक्षा, रिड एलांग जैसे प्रभावशाली एप को डाउनलोड कराकर उसके उपयोग के लिए प्रेरित करने पर जोर दिया। बैठक में विद्यालय की भौतिक संसाधनों को सुधारने के लिए कायाकल्प तथा कम्पोजित ग्रान्ट से होने वाले कार्यों में रनिंग वाटर, मल्टीपल हैंडवाश, विद्युतीकरण तथा विद्यालय भवन को बाला के आधार पर तैयार करने पर जोर दिया। ब्लाक अध्यक्ष ओपी शुक्ल ने कहा कि मिशन प्रेरणा प्राथमिक स्तर पर भाषा और गणित की समझ को बच्चों के बीच विकसित करने के लिए बनाया गया है। आनलाइन हो रहे प्रशिक्षणों में इस पर विधिवत जानकारी दी जा रही है। बैठक को एआरपी जे पी चौरसिया, प्रमोद कुमार ओझा, ब्रजेश कुमार, विशाल सिंह आदि ने भी संबोधित किया। इस दौरान सुधांशु कुमार राय, नंद प्रकाश सिंह, अनिल कुमार तिवारी, संतोष कुमार, इजहार अहमद, रमेश कुमार, जावेद अहमद, श्रीनिवास यादव, हरिनिवास, दिलीप वर्मा, मनोज कुमार गुप्त, विमलेश कुमार, शरद कुमार, शत्रुघ्न यादव, राजीव रंजन मिश्र आदि प्रमुख रुप से मौजूद रहे।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here