चार कॉलेज छात्रों की सोच से आज शिक्षित हो रहे एक हजार कूड़ा चुनने वाले बच्चे

विज्ञापन

भटनी

आज के परिवेश में हर युवा अपने बेहतर भविष्य के ख्वाब संजोए कॉलेज में दाखिला लेता है। फुर्सत के पलों में सोशल नेटवर्क की दुनिया में खुद की खुशी तलाश करने में जुटा रहता है। लेकिन कुछ युवाओं ने इस दुनिया में रहते हुए कुछ ऐसों की दुनियां संजोने का संकल्प लिया जो आज एक मिशाल बन गया है। समाज में अपने दायित्वों का अभी से निर्वहन करने वाले इन होनहारों ने अपने परिवार से मिलने वाले खर्च से ही बच्चों के चेहरे में एक नई मुस्कान बिखेर रहे हैं।

करीब छह साल पहले भटनी से वाराणसी विद्यापीठ में शिक्षा ग्रहण करने प्यासी निवासी अवनीश व उसके कुछ साथी कुछ अलग करने की सोच को सफल बनाने में जुटे थे। कॉलेज जाते समय रास्ते में कूड़ा चुनने वालों बच्चों को देखकर मन में इनके भविष्य की चिंता इन युवाओं की आंखों में झलक रही थी। एक दिन साथ बैठे अवनीश, रंजीत रंजन, वैभव मिश्र को अचानक इन्हे शिक्षित करने का बीड़ा उठाया।

फुर्सत के पलों में काशी विद्यापीठ से सटे एक मुहल्ले में केवल चार बच्चों को लेकर उन्हे शिक्षित करने का काम शुरु हुआ। मुश्किलें भी आयीं लेकिन हौसला कम न हुआ। कारवां बढ़ता चला गया और ट्राई टू फाइट नाम से चल रहे रहे इस गु्रप की सराहना देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी कर चुके हैं। टीम को पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, प्रणव मुखर्जी व पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी भी इस ग्रुप की सराहना कर चुके हैं।


यहां से शुरु हुआ था ट्राई टू फाइट
-2013 में अवनीश व उसके तीन साथियों ने शुरु की थी कूड़ा चुनने वालों को शिक्षा देने की मुहीम
– चार बच्चों से शुरु हुई थी संस्था
– आज इस स्थानों पर करीब एक हजार से अधिक बच्चों को दे रहे शिक्षा
– 25 ऐसे सक्रिय सदस्य हैं जो हर रोज अपने जीवन का कुछ अंश बच्चों के जीवन संवारने में दे रहे दान
काशी की धरती पर इस ग्रुप की है चहुं ओर चर्चा हो रही हैं.
ये हैं सक्रिय सदस्य
अंकित, प्रशांत, हिमांशु, शुभम, संदीप, आशु, आयुष, सृष्टि, निधि, पूजा व अजीत हैं.

देवरिया टाइम्स की खबरों का अपडेट मोबाइल पर पाने के लिए,अपने व्हाट्सएप्प से DT लिखकर 7007812095 पर भेजें,इसके अलावा आप हमारे फेसबुक पेज देवरिया टाइम्स को लाइक करके भी हमारे साथ जुड़ सकतें है,और अपडेट पा सकतें हैं.

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here