भटनी: अवैध क्लीनिक संचालक के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया केस

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

उपनगर भटनी में अवैध रूप से चला रहे क्लीनिक संचालक के खिलाफ पुलिस ने प्रभारी चिकित्साधिकारी की तहरीर पर केस दर्ज किया है।
भटनी क्षेत्र के दो स्वजनों ने अवैध रुप से कोविड के मरीजों का इलाज के नाम धन उगाही का आरोप लगाया था। प्रभारी चिकित्साधिकारी ने मामले की जांच स्वास्थ्य निरीक्षक को सौंपी थी। स्वास्थ्य निरीक्षक की जांच में तीमारदारों का आरोप पुष्ट हुआ था। पुलिस मामले में केस दर्ज कर मामले की विवेचना कर रही है।
जानकारी के मुताबिक रामपुर खुरहुरिया निवासी सभासद टिंकू सिंह कोविड से संक्रमित हो गए थे। उनके इलाज के लिए हरिकीर्तन मुहल्ला स्थित उपहार चेस्ट केयर सेंटर पर ले गए। जहां संचालक एम के शर्मा ने परिवारीजनों से एक लाख रुपये वसूलकर आक्सीजन आदि की व्यवस्था का आश्वासन दिया। परिवारीजनों के अनुसार सभासद की हालत खराब होने पर उन्हें संचालक ने देवरिया भेज दिया जहां उनकी मौत हो गयी।

सभासद मौत के बाद भाई अभिषेक कुमार सिंह ने प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. एन पी सिंह को शिकायती पत्र देकर क्लीनिक के खिलाफ कार्रवाई करते हुए न्याय की गुहार लगायी थी। ऐसे ही कुरमौटा घुरी निवासी विशाल शर्मा ने शिकायती पत्र देकर 70 हजार रुपये की वसूली कर पिता का इलाज न करने का आरोप लगाया था। दोनों आरोप की जांच प्रभारी ने स्वास्थ्य निरीक्षक विजेन्द्र मणि को सौंपी थी। जांच में प्रभारी ने ऑक्सीजन रखकर अवैध रूप से मरीजों का इलाज करने, मेडिकल स्टोर चलाने तथा बिना किसी योग्यता से चेस्ट केयर चलाने की पुष्टि करते हुए रिपोर्ट प्रभारी को सौंपी थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. एन पी सिंह ने पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग रखी थी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर संचालक के विरुद्ध धारा 188,269,419,420,468,471 व 15 3 इण्डियन मेडिकल कौंसिल एक्ट व आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है।

मामले में केस दर्ज किया है। प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. एन पी सिंह की तहरीर पर कार्रवाई की गयी है। पुलिस आरोपी संचालक के विरुद्ध विवेचना कर कार्रवाई करेगी।

अश्वनी कुमार प्रधान, विवेचना अधिकारी, थाना भटनी

input hindustan

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here