सुसाइड प्रिवेंशन पर विद्यालयों में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित



देवरिया टाइम्स।
राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत सुसाइड प्रिवेंशन पर आज विद्यालयों में जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा हैं।
                      जिसमें आज सामु./प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भटनी के अन्तर्गत के के पब्लिक स्कूल भटनी में विद्यार्थियों को स्वास्थ्य निरीक्षक प्रमोद कुमार मिश्र ने बताया कि राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम में आज के व्यस्ततम दिनचर्या में मानसिक तनाव एक सामान्य रोग हैं,

विद्यार्थियों को परीक्षा परिणाम घोषित होने पर एक दूसरे की तुलना में कम या ज्यादा नम्बर आने पर तनाव में नहीं आना हैं और पुन प्रयास करें जिससे कि आप अपने को सही दिशा में आगे बढ़ते रहे, मानसिक स्वास्थ्य में उतार चढाव आने पर अपने परिजनों, शिक्षकों से खुले मन से वार्ता करें जिससे आप की समस्या का समाधान हो जाय। ओझा सोखा, झाड़ फूंक के चक्कर में कदापि नहीं पड़े।
                          राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम से साइकेट्रिक सोशल वर्कर वर्षा सिंह ने बताया कि मोबाइल का अत्यधिक प्रयोग से बच्चों में पबजी गेम, वीडियो गेम, इंटरनेट, आदि के लत लग जा रही हैं, जिससे बच्चे अकेलापन महसूस कर रहे हैं धीरे धीरे उनकी मानसिक स्वास्थ्य बिगड़ने लगता हैं।


परिजनों को चाहिए कि वह बच्चों को अकेले नहीं छोड़े और उनसे मित्रवत व्यवहार करें जिससे वह बिना झिझक के अपनी बात कह सके हैं व पुन: सामान्य रूप से होकर अपनें कार्य व व्यवहार से जीवन में एक नई आशा से अपना मुकाम हासिल करें।
      आज के कार्यक्रम में विधालय से अजय कुमार वर्मा कार्यकारी निदेशक, प्रमोद कुमार, मकसूदन, अखिलेश, नितेश शिक्षकगण, हनुमंत सहाय, सोनल यादव, सताक्षी, रौनक, विनय तिवारी, सूरज शाह आदि विद्यार्थियों ने भाग लिया।
      

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर