पैरामिलिट्री फोर्स के सहायक कमान्डेंट ने बच्चों को पढ़ाया अनुशासन का पाठ


भटनी/देवरिया टाइम्स।
आरएएफ के सहायक कमान्डेंट सोमवार को अपने गांव पहुंचे। जहां स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय पर बच्चों को अनुशासन का पाठ पढ़ाया। उन्होंने बच्चों को उपहार देकर पुरस्कृत किया। इस दौरान सहायक कमान्डेंट राजेश कुमार मौर्य ने कहा कि समाज को बदलने के लिए शिक्षा ही एक मात्र साधन है।

जिससे हम स्वयं तथा आस पास के समाजिक परिवेश को बदल सकते हैं। शिक्षा तथा अनुशासन से हम हर मुश्किल को आसान कर सकते हैं। शिक्षा को कोई दूसरा विकल्प नहीं है। शिक्षा से ही समाज में फैली बुराईयों पर विजय हासिल किया जा सकता है। आज के परिवेश में सरकारी विद्यालयों के बच्चे बेहतर शिक्षा पाकर अपने प्रतिभा का लोहा मनवा रहे हैं। शिक्षा ग्रहण करने के लिए अनुशासित जीवन तथा अपने अभिभावक व शिक्षकों के प्रति आदर का भाव होना आवश्यक है। उन्होंने शिक्षकों से बच्चों को उनके परिवेश से जोड़कर ज्ञान देने का भी आग्रह किया।

उन्होंने कहा कि परिवेश से जोड़कर शिक्षा देने से बच्चे कम समय में आसानी सीखने लगते हैं। विद्यालय की छात्रा सावित्री तथा छोटी ने सरस्वती वंदना व स्वागत गीत प्रस्तुत किया। स्वतंत्रता दिवस पर कार्यक्रम प्रस्तुत करने वालों को सहायक कमान्डेंट ने उपहार देकर पुरस्कृत किया। इस दौरान प्रधानाध्यापक ताहिर अहमद, प्रेमचन्द्र सिंह, मारूत नंदन, सूरज कुमार, निर्मला कुशवाहा, आदि प्रमुख रुप से मौजूद रहे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर