सप्ताह भर पूर्व हुए मारपीट में घायल युवक की मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत,ग्रामीणों ने किया रास्ता जाम

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

जनपद के भटनी थाना क्षेत्र में एक सप्ताह पूर्व मारपीट में घायल नवयुवक की बुधवार को गोरखपुर के मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गयी। नवयुवक के मौत की खबर मिलते ही परिजनों ने ग्रामीणों के साथ मिलकर भटनी-देवरिया मार्ग(बाईपास मार्ग) को जाम कर पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया। पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे ग्रमीणो का आरोप था कि तहरीर देने के बाद भी पुलिस ने लापरवाही बरती और आरोपी खुलेआम घूम रहे । घटना की जानकारी होने पर ओमप्रकाश बरनवाल उपजिलाधिकारी सलेमपुर और सीओ श्रीएस त्रिपाठी आक्रोशित ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया लेकिन सफलता हासिल नही हुई।घटना की गम्भीरता को देखते हुए मौके पर भटनी पुलिस के अलावा बनकटा, भाटपार औऱ खुखुंदू एवं खामपार की पुलिस के साथ पीएसी बल को तैनात कर दिया गया है ।


प्राप्त सूचना के अनुसार सिद्धान्त 23 पुत्र सुरेंद्र गौड़ निवासी रामपुर भटनी 13 अक्टूबर की रात साहोपार मार्ग पर स्थित अपने नई मकान जा रहे थे। इसी दौरान रेलवे स्टेशन के पास हतवा गांव निवासी विकास यादव और उसके चार साथियों ने किसी विवाद को लेकर सिद्धान्त को घेर कर बेरहमी से मारापीटा । गंभीर रूप से घायल सिद्धान्त को परिजन सीएचसी भटनी ले गए जहां से प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। हालत में सुधार न होने पर उसे मेडिकल कॉलेज गोरखपुर भेज दिया गया था। बुधवार को इलाज के दौरान सुबह करीब 11 बजे मेडिकल कॉलेज में उसकी मौत हो गई।

मौत की सूचना मिलते ही स्वजनों तथा ग्रामीण आक्रोशित हो सड़क पर उतर गए। ग्रामीणों ने ब्लॉक के समीप तिराहे पर भटनी-देवरिया बाईपास मार्ग को जाम कर दिया। आक्रोशित भीड़ पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। ग्रामीणों का आरोप था कि मारपीट की घटना के बाद से पुलिस मामले को मैनेज करने में लगी थी। थानेदार मुकेश कुमार मिश्र अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों को शान्त कराने का प्रयास करते रहे परन्तु भीड़ उनसे नोकझोंक पर उतारू हो गई। सूचना पर क्षेत्राधिकारी पंचम लाल तथा एसडीएम ओमप्रकाश बर्नवाल ने भी मौके पर पहुंचकर लोगों को शांत कराने का प्रयास किया लेकिन असफल रहे। करीब 12:30 बजे से शुरू हुआ रास्ता जाम शाम 5:30 बजे तक जारी था। इस दौरान भटनी-भरथुआ मार्ग पर बड़े वाहनों का जाम लग गया। तनाव को देखते हुए पांच थानों की पुलिस व पीएसी के साथ अधिकारी मौके पर मुस्तैद थे।

पुलिस परीक्षा पास कर मेडिकल की तैयारी में था युवक(सिद्धान्त)

siddhant


अपने पिता की तीन संतानों में दूसरे नम्बर का सिद्धान्त पुलिस परीक्षा में लिखित व फीजिकल परीक्षा को पूर्ण कर लिया था। परिवारीजनों के अनुसार अगले माह ही मेडिकल परीक्षण होना था। जिसको लेकर सिद्धान्त अपनी तैयारियों में लगा था। मंगलवार की रात हतवा गांव निवासी विकास तथा उसके साथियों ने सिद्धान्त तथा उसके स्वजनों की खुशियों पर ग्रहण लगा दिया।

घायल युवक का वायरल हुआ था वीडियो
सिद्धान्त के साथ हुई मारपीट की घटना का वीडियो जारी किया था। जो नगर में तेजी से वायरल हुआ था। वीडियो में युवक ने घटना में शामिल युवक व उसके साथियों का जिक्र करते हुए अपने साथ हुई ज्यादतीय के लिए न्याय की गुहार लगाई थी।

पुलिस ने जांच में तीन बार बढ़ाई धाराएं
घटना की रात ही घायल युवक सिद्धान्त के पिता सुरेन्द्र की तहरीर पर पुलिस ने विकास तथा चार अज्ञात के खिलाफ एनसीआर दर्ज किया था। विवेचक गुफरान खां ने 17 अक्टूबर को मामले में 308 दर्ज किया था। जांच के दौरान ही पुलिस ने 20 अक्टूबर को दलित उत्पीड़न का केस बढ़ाते हुए जांच शुरु की थी। जांच में पुलिस ने आरोपी विकास की गिरफ्तारी के लिए दबिश भी दी थी। पुलिस ने 147, 323, 504, 506, 308 व दलित उत्पीड़न का केस दर्ज किया है।

मारपीट में घायल युवक की इलाज के दौरान मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई थी। घटना में आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही सभी की गिरफ्तारी की जाएगी। आक्रोशित भीड़ को समझाने का प्रयास किया जा रहा है।
श्रीएसप त्रिपाठी, क्षेत्राधिकारी सलेमपुर

नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर आगे की कारवाई की जा रही है शेष आरोपियों की तलाश जारी है . आगे की कार्यवाही की जा रही है श्रीपति मिश्र पुलिस अधीक्षक देवरिया

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here