मुसैला-भागलपुर मार्ग के चौड़ीकरण/सुदृढ़ीकरण कार्य के पूर्ण न होने पर डीएम ने जतायी नाराजगी



देवरिया टाइम्स।

जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने आज लोकनिर्माण विभाग द्वारा भागलपुर-मुसैला मार्ग पर किये जा रहे चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने निर्धारित अवधि बीत जाने के बाद भी कार्य पूर्ण न होने पर गहरी नाराजगी व्यक्त की। साथ ही मरम्मत कार्य को शीघ्र ही पूर्ण करने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में 10 करोड़ 42 लाख रुपये की अनुमानित लागत से राज्य सड़क निधि योजना अंतर्गत मुसैला से भागलपुर मार्ग के साढ़े 5 किमी सड़क के चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य 25 मई 2021 को प्रारंभ हुआ था। कार्य पूर्ण होने की अवधि 24 फरवरी 2022 तय की गई थी। किंतु, कार्य पूर्ण होने की अवधि से तीन माह अतिरिक्त समय बीत चुका है और कार्य अभी तक पूरा नहीं हुआ है, जो कि लापरवाही का संकेत करता है।

जिलाधिकारी ने कहा कि प्रतिवर्ष इस मार्ग द्वारा ही बड़ी संख्या में लोग महर्षि देवरहा बाबा के आश्रम जाते हैं, जो कि पर्यटन की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण है। अतः इस मार्ग का दुरुस्त होना अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने मौके पर मौजूद लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता मनीष कुमार से परियोजना के संबन्ध में जानकारी प्राप्त की। सहायक अभियंता ने बताया कि इस कार्य को करने वाले ठेकेदार पर विलंब के लिए साढ़े 12 लाख रुपये की पेनाल्टी लगाई गई है।

जिस पर डीएम ने कृत कार्रवाई से जुड़ी सभी पत्रावलियां मांगी और कार्य को शीघ्र पूर्ण करने का निर्देश दिया। उन्होंने चेतावनी दी कि तीन माह के भीतर कार्य पूर्ण कर लिया जाए अन्यथा कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर