बरहज :श्रद्धा पूर्वक मनाई गई अनंत महाप्रभु की जयंती

विज्ञापन

बरहज आश्रम में योग अनंत महाप्रभु की 244वीं जयंती नगर अनंतपीठ आश्रम में सोमवार को मनाई गई. गुरु के चित्र पर विधि विधान पूर्वक पूजन पीठाधीश्वर आंजनेयदास ने किया.

उन्होंने कहा की अनंत महाप्रभु बरहज निवासी बाबा लालदास के साथ उनके आग्रह पर अयोध्या से बरहज आए थे.बेचू साह के अनुरोध पर नंदना वार्ड में कुटिया बनाकर रहने लगे, आगे चलकर यह स्थान उनकी तपोस्थली बन गया. सूरदास कुटी के महंत श्यामसुंदर दास ने कहा कि धार्मिक कट्टरता, संकीर्णता और असहिष्णुता जैसी विसंगतियों से समाज विखंडित हो रहा है। पंडित विनय मिश्र, परशुराम पांडेय, पं.विश्राम शुक्ल व अंगद द्विवेदी ने कथा का रसपान कराया.

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here