बनकटा पुलिस ने अंतरराज्यीय वाहन लिफ्टर गिरोह के पांच सदस्यों को दबोचा,37 चोरी की बाइक बरामद


देवरिया टाइम्स

अंतरराज्यीय वाहन लिफ्टर गिरोह के पांच सदस्यों को बनकटा पुलिस ने दबोच लिया। उनकी निशानदेही पर एक स्थान से चोरी की 37 बाइक को बरामद की है। बरामद की गई बाइक जिले के अलावा बिहार के विभिन्न थानों से चोरी हुई थी। खुलासा करने वाली टीम को 20 हजार का इनाम दिया जाएगा। पुलिस अधीक्षक डॉ.श्रीपति मिश्र ने शुक्रवार को प्रेसवार्ता में यह जानकारी दी।

एसपी के अनुसार बनकटा के थानाध्यक्ष विपिन मलिक गश्त कर रहे थे। अभी वह रामपुर चौराहे के समीप ही पहुंचे थे कि एक पल्सर बाइक पर दो युवक आते हुए दिखाई दिए। दोनों युवक संदिग्ध लगे तो पुलिस ने गाड़ी को रोककर चेकिंग किया तो पता चला की गाड़ी बिहार से चुराई हुई है। पुलिस की पूछताछ में चोरी की बाइक के साथ पकड़े गए वाहन लिफ्टरों ने अपना नाम मो. आसिफ अंसारी उर्फ सोनू पुत्र मो. इलियास निवासी बिरमापट्टी थाना खामपार और बीरु कुमार पुत्र नन्दलाल प्रसाद निवासी लक्ष्मीपुर भिंगारी बाजार थाना खामपार बताया। पूछताछ में वाहन लिफ्टरों के सरगना आसिफ अंसारी उर्फ सोनू ने बताया हम लोग बिहार और यूपी से बाइक चोरी करते हैं।

चोरों ने बताया कि प्रतापपुर से छेरिहां जाने वाले सड़क के पास बन्द पड़े ईंट भठ्ठे में चोरी की बाइक को छिपा कर रखा गया है। जहां तीन साथी बाइक की रखवाली कर रहे हैं। गिरफ्तार अभियुक्तों की निशानदेही पर प्रताप छापर से छेरिहां जाने वाले सड़क के पास बन्द पड़े ईंट भठ्ठे पर छापेमारी करते हुए पुलिस ने तीन और वाहन लिफ्टरों को गिरफ्तार किया। पूछताछ में उसने अपना नाम दिनेश यादव पुत्र रामकैलाश यादव निवासी खरहरवां थाना उचकागांव जिला गोपालगंज (बिहार), बृजेश कुमार चौरसिया पुत्र मोतीलाल चौरसिया निवासी सलेमगढ़ थाना तरयासुजान जिला कुशीनगर और प्रितम चौहान पुत्र शम्भू चौहान निवासी विशवनीय थाना दरौली जिला सीवान, बिहार को गिरफ्तार किया। बंद पड़ी ईट भट्ठे से चोरी की छिपाकर रखी 36 मोटरसाइकिलों को पुलिस ने बरामद किया। वाहल लिफ्टरों ने बताया कि बिहार व यूपी के विभिन्न जनपदों से मोटरसाइकिलों को चोरी कर एकत्र किया गया था। जिले बाहर के जिलों में बेचने के लिए भेजने की तैयारी थी।

नंबर प्लेट बदल कर बेच देते थे गाड़ी: बदमाशों ने बताया कि बाइक की नम्बर प्लेट बदल कर बेच देते हैं। जिससे पुलिस को चोरी के बारे में कोई जानकारी न मिल सके। वहीं बदमाश इससे बचने के लिए गाड़ी पर पत्रकार, पुलिस और आर्मी लिखवा देते थे। जिससे गाड़ियों की शिनाख्त कोई न सके। यह यूपी बिहार बार्डर पर शराब पिने आने वाले बिहार के लोगों की बाइक और रुपये लूटने का कार्य करते थे।

जिले से चोरी छह बाइक हुई बरामद: बनकटा पुलिस ने वालि लिफ्टरों के रैकेट से बरामद 37 बाइकों में छह बाइक जिले के अलग अलग थानों की है। जिसमें सदर कोतवाली और बनकटा में दर्ज दो मुकदमों की गाड़ी, खामपार और भाटपार रानी थाने की एक- एक वाहन मिले हैं। वही बिहार के सीवान जिले से 9 और गोपालगंज से 3 चोरी के बाइकों का मुकदमा दर्ज है। वहीं दोनों जिलों में चोरी गए एक दर्जन से अधिक बाइकों का मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है। इसके लिए एसपी डॉ.श्रीपति मिश्र ने सीवान और गोपालगंज के एसपी से वार्ता कर गाड़ियों के बरामद हाने के बारे में जानकारी दी है।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर