SBI का एक फैसला 18 सितम्बर से लागू होगा ,44 करोड़ ग्राहकों पर पड़ेगा ये असर

विज्ञापन

डिजिटल डेस्क

अगर आप देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के ग्राहक हैं तो ये खबर आपके लिए है. दरअसल, एसबीआई ने एक अहम फैसला लिया है. इसका असर बैंक के करीब 44 करोड़ ग्राहकों पर पड़ना तय है.

एसबीआई ग्राहकों को 10,000 रुपये और इससे अधिक की राशि की निकासी के लिए अपने एटीएम कार्ड पिन के साथ ही रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजे गए ओटीपी को दाखिल करना होगा. ऐसा उन्हें प्रत्येक लेनदेन के लिए करना होगा. 

एसबीआई के प्रबंध निदेशक (खुदरा और डिजिटल बैंकिंग) सीएस सेट्टी ने कहा कि 24 घंटे ओटीपी आधारित एटीएम निकासी सुविधा से एसबीआई ग्राहकों को सुरक्षित और जोखिम रहित निकासी का अनुभव होगा. इस सुविधा से एसबीआई डेबिट कार्डधारकों को धोखेबाजी से बचने में मदद मिलेगी. 

सके साथ ही एसबीआई ने अपने सभी ग्राहकों से मोबाइल नंबरों को रजिस्टर्ड करने या अपडेट करने का आग्रह किया है. कहने का मतलब ये है कि अगर आप सुरक्षित लेनदेन चाहते हैं तो रजिस्ट्रेशन करा लें.  
 बैंक ने कहा कि ओटीपी आधारित नकद निकासी की सुविधा केवल एसबीआई के एटीएम में उपलब्ध है. दूसरे एटीएम में यह सुविधा विकसित नहीं की गई है.

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here