देवरिया टाइम्स । देवभूमि की आवाज़
Image default
  • Home
  • देवरिया
  • युवाओं के आदर्श, गरीबों के उम्मीद…कुछ ऐसे है अपने जिलाधिकारी अमित किशोर
देवरिया

युवाओं के आदर्श, गरीबों के उम्मीद…कुछ ऐसे है अपने जिलाधिकारी अमित किशोर

देवरिया टाइम्स

कौन कहता है आसमां में सुराख नहीं हो सकता, एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारों।
यह लाइन हमारे जिले के जिलाधिकारी पर बिल्कुल फीट बैठती है। मूलतः मधुबनी निवासी अमित किशोर अपने चौथे एवम अंतिम प्रयास में आईएएस की परीक्षा पास की। अगर इनको और करीब से जाने तो इन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई है और विभिन्न नामी कंपनियों जैसे टीसीएस,ओएनजीसी आदि में नौकरी करते हुए यूपीएससी परीक्षा की तैयारी की एवं अपने चौथे व अंतिम प्रयास में सफलता हासिल की।

क्या है इनके मोटिवेशन एवं सफलता का राज
श्री किशोर ने एक कोचिंग संस्थान के मोटिवेशनल टॉक में प्रतियोगियों को संबोधित करते हुए बताया है कि अगर किसी एक गोल पर फोकस एवं आत्मविश्वास हो तो सफलता अवश्य मिलती है।

यूपीएससी परीक्षा के लिए रोल मॉडल एवं प्रेरणा के स्रोत
इनके अनुसार अगर कोई यूपीएससी के लिए तैयारी करना चाहता है कोशिश यह होनी चाहिए कि कोई एक नौकरी हाथ में हो फिर तैयारी शुरू करें, जिससे प्रतियोगी के ऊपर दबाव कम हो। उन्होंने में अपने तैयारी के बारे में बताया कि मैंने कोचिंग की और जॉब के बाद रेगुलर 3 से 4 घंटे की पढ़ाई की थी। अगर मन में जज्बा हो और आपको कोई यह गाइड करने वाला हो कि कौन सी किताब एवं कब क्या पढना है तो किसी कोचिंग की जरूरत नहीं है। आप प्रतिदिन अख़बार पढ़ कर अपनी तैयारी को और बेहतर बना सकते है।

अपने दायित्वों के निर्वहन के लिए हमेशा रहते है संकल्पित
सकरात्मक व्यक्तित्व एवं आत्मविश्वास के धनी आइएएस अमित किशोर किशोर की देवरिया में उनकी तीसरी पोस्टिंग है इसके पहले एटा एवं रामपुर में बतौर जिलाधिकारी का पद संभाल चुके है।

श्री किशोर ने बतौर जिलाधिकारी के दायित्व को बखूबी निभाते हुए कई अनोखी पहल की है यह ऐसे मिशाल पेश करते है जिनका कोई जवाब नही है। जिनमें से कुछ का उल्लेख हम कर रहे है:

जब दिव्यांग बेटी का बढ़ाया मान

जनपद देवरिया के लार निवासी दिव्यांग बेटी पार्वती को देवरिया जिले का मतदाता जागरूकता कार्यक्रम के ब्रांड अम्बेडकर के रूप में घोषित किया।
जब रो पड़े थे डीएम गमगीन हो गया था पूरा माहौल

16 फरवरी 2019 को जब जिले के भटनी निवासी शहीद विजय का पार्थिव शरीर उनके घर पहुचा तो जिले के पूरे अधिकारी सहित सरकार के कई मंत्री विधायक समेत लाखो लोग मौजूद थे उस समय जब शहीद की पत्नी विजय लक्ष्मी ने अपने पति के पार्थिव शरीर को देखा तो उस समय डीएम की आंखों में आंसू आ गए तो पूरा माहौल गमगीन हो गया।

जनपद देवरिया को जब प्रदेश में दिलाए प्रथम स्थान
इनकी स्वास्थ्य संवेदना के बारे में तब पता चला जब जनपद में रूबेला टीकाकरण की शुरुआत अपनी बेटी से की और जनपद के 99.99 % बच्चों को यह टीका लगाया गया जिसके फलस्वरूप पूरे प्रदेश में जनपद को इस अभियान में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ।

पांच दशक पुरानी अतिक्रमण को हटवाया

जिलाधिकारी अमित किशोर ने देवरिया शहर के बीचो-बीच झुग्गी-झोपड़ी से किये गए अतिक्रमण को हटवाया एवं उन झोपड़ी में रह रहे गरीबों को आवास योजना के तहत घर दिलाया। इससे पहले कई बार प्रशासन के अधिकारियों ने हटवाने ने की कोशिश की लेकिन उन्हें सफलता हासिल नही हुई। इसी क्रम में मईल में देवरहा बाबा के आश्रम को 250 एकड़ जमीन का भी कब्ज़ा दिलाया।

बच्चों के साथ जमीन पर ही बैठ गए थे जिलाधिकारी

नए-नए जब जनपद में जिलाधिकारी का आगमन हुआ था तब राजकीय इंटर कॉलेज में एक कार्यक्रम में जिलाधिकारी को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया गया था तब जब जिलाधिकारी कार्यक्रम स्थल पर पहुचे तो बच्चे जमीन पर बैठे थे एवं अन्य गणमान्य के लिए कुर्सियां लगी थी तो खुद भी कुर्सियां हटवाकर जमीन पर बैठ गए और बोले विद्यार्थियों से ऊंचा कौन बैठेगा हमे उनकी बराबरी में बैठना चाहिए जिससे कि समानता का भाव बना रहे।
एटा की कल्पना को बनाया था ग्रामीण स्वच्छ भारत अभियान का ब्रांड अम्बेसडर
जनपद एटा में ब्याही हुई कल्पना की कहानी बहुत ही भयावह है किंतु उसने ऐसा किया कि तत्कालीन एटा के जिलाधिकारी अमित किशोर ने उसे स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड अम्बेसडर के रूप में नियुक्त किया।
वाकया कुछ ऐसा था कि कल्पना का रिश्ता पक्का कर उसके भाई एवं पिता घर वापस आ रहे थे तो उनका एक मार्ग दुर्घटना में उनकी मौत हो गयी थी। उसके बाद तमाम रूढ़िवादी परम्पराओ को दरकिनार करते हुए कल्पना ने तय तारीख़ पर शादी की एवं ससुराल गयी एवं वहा शौचालय की माँग की । सूचना मिलने पर डीएम ने उनके यहाँ स्वच्छ भारत मिशन के तहत उनके घर शौचालय बनवाया । इसे पूरे वाकये को देखते हुए जिलाधिकारी अमित किशोर ने कल्पना को एटा के स्वच्छ ग्रामीण मिशन का ब्रांड अंबेसडर घोषित किया। इससे संबंधित देखे ‘पहल’ नाम से बनी वीडियो

करा चुके है दो बड़े महोत्सव

अभी हाल ही में हुए देवरिया महोत्सव एवं उस से पहले एटा महोत्सव को शासन स्तर से सफल आयोजन करा चुके है जिसमें उनका फोकस स्थानीय लोगो को शासन की सुविधाओं एवं योजनाओं के बारे में बताना एवं ग्रमीण तथा शहरी प्रतिभाओ को एक मंच देकर कार्यक्रम आयोजित कराए । लोक गीत एवं संगीत का भी ध्यान रखा गया एवं बॉलीवुड की कई बड़ी हस्तिया जैसे कैलाश खेर, मालिनी अवस्थी जैसे बड़े कलाकार शामिल हुए थे।

देवरिया टाइम्स की खबरों का अपडेट मोबाइल पर पाने के लिए,अपने व्हाट्सएप्प से DT लिखकर 7007812095 पर भेजें,इसके अलावा आप हमारे फेसबुक पेज देवरिया टाइम्स को लाइक करके भी हमारे साथ जुड़ सकतें है,और अपडेट पा सकतें हैं.

Related posts

तरकुलवा ब्लॉक के सफाई कर्मियों के सफाई व्यवस्था और मनमानी पर एडीओ पंचायत पंचायत का नोटिस

अतुल पति त्रिपाठी

ई रिक्शा चालक की हत्या में शामिल तीन अभियुक्त गिरफ्तार

देवरिया टाइम्स

बीटीसी संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा ने ट्विंकल के न्याय लिए निकाला कैंडल मार्च

Leave a Comment